Exam Preparation Group

GK, HISTORY, SCIENCE MATHS, ENGLISH, HINDI & MANY MORE

दैनिक समसामयिकी 20 फरवरी 2017

​20 फरवरी 2017 करेण्ट अफेयर्स
1) सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) ने मध्यम तथा निम्न आय वर्ग के लोगों को न्यायालय में अपने मामलों की पैरवी करने को आसान बनाने की दिशा में एक बड़ा कदम उठाते हुए 16 फरवरी 2017 को एक नई योजना को शुरू किया जिसके तहत उन्हें आर्थिक सहायता व सस्ती दरों पर न्याय उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गई है। इस महात्वाकांक्षी योजना का नाम क्या है? – मीडियम इन्कम ग्रुप स्कीम (Middle Income Group Scheme)
विस्तार: मीडियम इन्कम ग्रुप स्कीम (Middle Income Group Scheme) सर्वोच्च न्यायालय द्वारा शुरू की गई एक स्वयं-सहायता योजना है जिसमें ऐसे लोगों को सर्वोच्च न्यायालय की विधिक सेवाएं उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गई है जिनकी पारिवारिक मासिक आय 60,000 अथवा 7,50,000 रुपए वार्षिक से अधिक नहीं है।
– इस योजना का लाभ हासिल करने के इच्छुक लोगों को एक आवेदन पत्र भरना होगा। इसके बाद इस योजना के तहत एक मामला पंजीकृत किया जायेगा जिसकी सुनवाई एडवोकेट-ऑन-रिकॉर्ड अथवा सम्बन्धित समिति के एक वरिष्ठ अधिवक्ता द्वारा की जायेगी। यदि वह इससे संतुष्ट हो जाता है कि उक्त आवेदक की स्थिति को देखते हुए उसे विधिक सहायता प्रदान की जाए जिससे वह सस्ती दर पर सर्वोच्च न्यायालय की विधिक सेवाएं प्राप्त कर सकता है।
……
2) भारत के उस एकमात्र सक्रिय ज्वालामुखी (active volcano) का क्या नाम है जो फरवरी 2017 के दौरान एक बार फिर लावा तथा आग उगलने लगा? – बैरेन द्वीप ज्वालामुखी (Barren Island Volcano)
विस्तार: अण्डमान व निकोबार द्वीपसमूह में स्थित बैरेन द्वीप ज्वालामुखी (Barren Island Volcano) भारत का एकमात्र सक्रिय ज्वालामुखी है। लगभग 150 वर्ष तक सुप्त रहने के बाद इस ज्वालामुखी में 1991 में ज्वालामुखीय गतिविधि एक बार फिर शुरू हो गई थी तथा इसके बाद से यह यदा-कदा सक्रिय होता रहा है।
– फरवरी 2017 के दौरान यह एक बार फिर सक्रिय हो गया तथा इसके शिखर से लावा तथा राख निकलने लगा। यह ज्वालामुखी अण्डमान-निकोबार द्वीपसमूह के उत्तर क्षेत्र में स्थित है तथा न तो यहाँ कोई मानव रहता है न ही यहाँ कोई वनस्पति उगती है। भारतीय नागरिक पोर्ट ब्लेयर स्थित वन विभाग से अनुमति लेकर चार्टर्ड नौकाओं से यहाँ पहुँच सकते हैं।
……
3) पाकिस्तान (Pakistan) में अल्पसंख्यक हिन्दुओं के विवाहों को नियमन के तहत लाने के लिए बहुप्रतीक्षित विधेयक – हिन्दू विवाह विधेयक, 2017 (Hindu Marriage Bill 2017) को यहाँ की सीनेट ने अपनी मंजूरी प्रदान कर दी। यह पाकिस्तान में पहला ही मौका है जब हिन्दू समुदाय के लिए एक विस्तृत विवाह कानून बनाया गया है। पाकिस्तान के उस हिन्दू राजनीतिज्ञ का क्या नाम है जिन्होंने हिन्दुओं के विवाह को वैधता प्रदान करने के लिए कानून बनाने के लिए पिछले कुछ वर्ष संघर्ष किया है? – रमेश कुमार वंकवानी
विस्तार: रमेश कुमार वंकवानी (Ramesh Kumar Vankwani), जोकि पाकिस्तान के सत्ताधारी पाकिस्तान मुस्लिम लीग – नवाज (PML-N) से सम्बद्ध राजनीतिज्ञ हैं, ने पिछले लगभग तीन वर्ष देश में विवाह कानून बनाने के लिए संघर्ष किया है।
– पाकिस्तानी संसद के निचले सदन (नेशनल एसेम्बली) ने हिन्दू विवाह विधेयक 2017 को 26 सितम्बर 2015 को स्वीकृति प्रदान कर दी थी। अब संसद के उच्च सदन (यानि सीनेट) ने इसे 17 फरवरी 2017 को पारित कर यह सुनिश्चित कर दिया कि यह विधेयक अब निश्चित पारित हो जायेगा। इस विधेयक को कानून बनने के लिए अब सिर्फ राष्ट्रपति के हस्ताक्षर की दरकार है।
– यह पाकिस्तान में हिन्दुओं के विवाह से सम्बन्धित पहला व्यक्तिगत कानून होगा तथा पंजाब, बलूचिस्तान और खैबर-पखतूनख्वा में लागू किया जायेगा। उल्लेखनीय है कि सिंध प्रांत में इस प्रकार का विवाह कानून पहले से प्रभाव में है। इस विधेयक के प्रभाव में आ जाने के बाद हिन्दू विवाहों को भी एक पण्डित द्वारा सम्बन्धित सरकारी विभाग से उसी प्रकार पंजीकृत किया जायेगा जैसा मुस्लिमों के विवाह को निकाहनामा में पंजीकृत किया जाता है।
……
4) भारतीय नौसेना (Indian Navy) ने निजी कम्पनी Nova Integrated Systems Ltd. के साथ सतही निगरानी राडार हासिल करने के लिए एक समझौता 17 फरवरी 2017 को किया। इस समझौते की सबसे बड़ी खासियत क्या है? – यह नौसेना में भारत सरकार की “मेक इन इण्डिया” नीति के तहत अमल में लाया जा रहा पहला सौदा है
विस्तार: 17 फरवरी 2017 को भारतीय नौसेना ने Nova Integrated Systems Ltd. के साथ एक समझौता किया जो भारतीय श्रेणी की किसी कम्पनी के साथ खरीदो एवं बनाओ (Buy and Make) का पहला ऐसा समझौता होगा जो केन्द्र सरकार की “मेक इन इण्डिया” नीति के तहत है।
– इस समझौते के तहत नौसेना से सतही निगरानी राडार (Surface Surveillance Radars – SSR) हासिल करेगी। यह कम्पनी टाटा एडवान्स्ड सिस्टम लिमिटेड की पूर्ण स्वामित्व वाली इकाई है। डेनमार्क की कम्पनी डेर्मा (Derma) के साथ तकनीकी सहयोग में इन आधुनिक राडारों का निर्माण किया जायेगा।
……
5) सुप्रसिद्ध उपभोक्ता उत्पाद कम्पनी यूनीलीवर पीएलसी (Unilever Plc.) ने किस अमेरिकी कम्पनी द्वारा उसे 143 अरब डॉलर के मूल्य पर अधिग्रहित करने के प्रस्ताव को अस्वीकार करने की घोषणा 17 फरवरी 2017 को की? – क्राफ्ट हाइन्ज़ कम्पनी
विस्तार: क्राफ्ट हाइन्ज़ कम्पनी (Kraft Heinz Co.) ने अपने प्रस्ताव में यूनीलीवर पीएलसी (Unilever Plc.) को 50 डॉलर प्रति शेयर के मूल्य के आधार पर 143 अरब डॉलर की कीमत पर अधिग्रहित करने की बात कही थी। लेकिन यूनीलीवर ने इस प्रस्ताव को यह कहकर अस्वीकार कर दिया कि इस प्रस्ताव की कोई वित्तीय अथवा रणनीतिक योग्यता नहीं है।
– यदि यह अधिग्रहण समझौता सम्पन्न हो जाता तो कॉरपोरेट इतिहास का तीसरा सबसे बड़ा सौदा होता तथा किसी ब्रिटिश कम्पनी को अधिग्रहित करने का सबसे बड़ा सौदा होता।
– यहाँ एक और उल्लेखनीय तथ्य यह है कि क्राफ्ट हाइन्ज़ कम्पनी यूनीलीवर पीएलसी की तुलना में अपेक्षाकृत छोटी है। 16 फरवरी 2017 को क्राफ्ट हाइन्ज़ का कुल बाजार पूँजीकरण 106 अरब डॉलर था। इसमें 50.9% स्वामित्व वॉरेन बफेट की कम्पनी बर्कशायर हैथवे (Berkshire Hathaway) और 3जी कैपिटल (3G Capital) का है।
——-
6) समुद्र में चलने वाली भारतीय नौसेना (Indian Navy) की उस दूसरी पालनौका (sailboat) का क्या नाम है जिसे नौसेना में 18 फरवरी 2017 को शामिल किया गया तथा जो इसके एक महिला दल द्वारा पृथ्वी की परिक्रमा करने वाले अभियान में प्रयोग में लाया जायेगा? – “आईएनएसवी तारिनी” (‘INSV Tarini’)
विस्तार: “आईएनएसवी तारिनी” (‘INSV Tarini’) भारतीय नौसेना की समुद्र में चलने वाली दूसरी पालनौका का नाम है। इसे नौसेना में 18 फरवरी 2017 को “आईएनएस माण्डोवी” में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल किया गया। ऐसी पहली पाल-नौका आईएनएसवी म्हादेई (INSV Mhadei) है जोकि तारिनी से काफी मिलती जुलती है।
– इस नौका का इस्तेमाल नौसेना के एक महिला दल द्वारा पृथ्वी का चक्कर लगाने वाले एक प्रस्तावित अभियान में किया जायेगा। उल्लेखनीय है कि आईएनएसवी म्हादेई ने भी पृथ्वी का पूरा चक्कर लगाने वाले एक अभियान को सफलतापूर्वक पूरा किया था।
……
7) 17 फरवरी 2017 को मेरठ में दिवंगत होने वाले वेद प्रकाश शर्मा (Ved Prakash Sharma) किस क्षेत्र से जुड़े थे? – हिंदी उपन्यास
विस्तार: वेद प्रकाश शर्मा हिंदी उपन्यास तथा पटकथा लेखन से जुड़ी प्रसिद्ध हस्ती। उनके उपन्यास सस्ते अखबारी कागज पर छपते थे तथा काफी सस्ते होते थे। लेकिन उन्हें अपार लोकप्रियता हासिल थी। अपने लगभग 40 वर्ष के करियर में उन्होंने 176 उपन्यास लिखे थे।
– उनके कुछ उपन्यासों पर हिंदी फिल्में भी बनाई गई थीं जैसे “बहु मांगे इन्साफ” (1985), “अनाम” (1992) और “सबसे बड़ा खिलाड़ी” (1995)। वहीं 1992 में प्रकाशित हुए उनके उपन्यास “वर्दी वाला गुण्डा” ने लोकप्रियता के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए थे तथा जारी होते ही इसकी 15 लाख प्रतियाँ बिक गई थीं।
——–

Exam Preparation Group © 2016 Frontier Theme